Write For UsPublish Your Blogs For FREE!

Category: Social Issues

प्रदूषित पर्यावरण का प्रतिफल भोगने लगी है पृथ्वी

 प्रदूषित पर्यावरण का प्रतिफल भोगने लगी है पृथ्वी- धरती जल रही है, समुद्र, नदियां, झीलें, तालाब, प्रदूषित हो चुके हैं. जंगल रेगिस्तान में तब्दील हो रहे हैं, जंगलों
Read More

21वीं सदी की ये कैसी तस्वीर? औरतें किसी भी देश, समाज, धर्म में सुरक्षित नही हैं

 यह कैसी 21वीं सदी है –  दुनियां तनाव, युद्धों के बादलों, तेज होती सेनाओं, हजारों विपदाओं को झेल रही है, और सबका कारण कुदरत नही बल्कि हम इंसानो
Read More

Essay on Women’s Safety महिलाओं की सुरक्षा पर छोटा सा निबंध पढ़े

हम सभी जानते है की हमारा देश हिंदुस्तान पूरे विश्व में अपनी अलग रीती रिवाज़ तथा संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है। भारत में प्राचीन काल से ही यह
Read More

अगर आप भी खाते है मृत्यु भोज तो अगली बार खाने से पहले जरूर जान लें ये बातें

मृत्यु भोज का लुत्फ उठाने वालो…जो आप सजधज कर जीमण जीमने जाते हो ना.. तुम्हारे उसी*एक समय के जीमण की कीमत*आप तो मज़े से जीमण खा रहे होते
Read More

आरक्षण पर शानदार हिंदी कविता

आरक्षण पर शानदार हिंदी कविता करता हूँ अनुरोध आज मैं, भारत की सरकार से,प्रतिभाओं को मत काटो, आरक्षण की तलवार से…वर्ना रेल पटरियों पर जो, फैला आज तमाशा
Read More

स्वच्छ भारत अभियान पर कविता

चलो उठो ये प्रण कर लें हम भारत को स्वच्छ बनाना है,धरती माँ के आँचल कोहरियाले,फल-फूलों से सजाना है,प्रदूषण की जहरीली हवा सेपर्यावरण को मुक्त बनाना है,तन स्वच्छ
Read More

महिला दिवस पर विशेष लेख – कन्या भ्रूण हत्या

कन्या भ्रूणहत्या का अभिशाप मिटा सकते है हम और आप – 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पुरे विश्व में महिलाओ को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है
Read More

आलोचना का महत्व

आलोचना- सामन्यत: आलोचना को बुरा माना जाता है , लोग आलोचना से घबराते है ,डरते है | आलोचक को शत्रु या दुश्मन माना जाता है , उससे झगड़ने
Read More