Monthly Archives: December 2017

आपके रिश्ते को बिगाड़ सकती है यह छोटी –छोटी आदते

By | December 30, 2017

आपके रिश्ते को बिगाड़ सकती है यह छोटी –छोटी आदते – आज के इस डिजिटल दुनिया में मजबूत रिश्ते बनाना बहुत ही मुशिकल हो गया है उससे भी ज्यादा मुश्किल इस रिश्तो को निभाना और इन्हें संजोकर रखना | कभी –कभी आपकी  छोटी –छोटी आदतों की वजह से रिश्तो में दरार आ जाती है हो… Read More »

शिक्षा समस्या क्यों ?

By | December 28, 2017

शिक्षा के दो स्र्तोत है – शब्द और जीवन व्यवहार | कुछ बाते शब्दों के माध्यम से सिखाई जाती है | उसे आदमी ग्रहण भी करता है ,शब्द के माध्यम से | यह अच्छा है ,करो ,यह काम बुरा है ,मत करो – यह शिक्षा का शाब्दिक माध्यम है | आज से ५०० वर्ष पूर्व… Read More »

जीवन का संबंध – हिंदी कविता

By | December 28, 2017

जीवन का संबंध जन्म से मृत्यु तक का सफर जीवन ही है जीवन में सबसे बड़ा मित्र आत्मविश्वास ही है जीवन का सबसे बड़ा शस्त्र समाधान ही है जीवन का सबसे अधिक सम्मान विशवास करना है जीवन का सबसे बड़ा उपकार दुसरो की निस्वार्थ सेवा है जीवन का सबसे बड़ा पुरुस्कार अपराधो को क्षमा करना… Read More »

How to Get Success in Life in Hindi

By | February 12, 2020

सफलता के सूत्र- Safalta Ke Sutra in Hindi ‘ मन के हारे हार ,मन के जीते जीत ‘ – इस सरल सी उक्ति का अर्थ जानते हुए भी , हम उससे कोई लाभ नहीं उठा पाते | क्यों ? इसके एक नहीं अनेक कारण है | लेकिन उन कारणों में रक महान अह्म है , और… Read More »

मंत्र साधना से जुडी ख़ास बातें

By | December 27, 2017

मन्त्र साधना  – मन्त्र के तीन तत्व होते है – शब्द ,संकल्प और साधना | मन्त्र का पहला तत्व शब्द – शब्द मन के भावो को वहन करता है | मन के भाव शब्द के वाहन पर चढकर यात्रा करते है | कोई विचार सम्प्रेषण का प्रयोग करके , कोई औटोसजेशन का प्रयोग करके , उसे सबसे… Read More »

एक पल भी जिन्दगी का व्यर्थ क्यों जाये? हिंदी कविता

By | December 27, 2017

एक पल भी जिन्दगी का व्यर्थ क्यों जाये? सुन सको तो फिर सुनो संवेदना मेरी , कब तक तजोगे राह तुम अन्याय की ? आदमी हो ,आदमी का अर्थ तो जानो , जिन्दगी का लक्ष्य क्या स्वयंमेव पहचानो जब सुगंधित जो करे उसको सुमन कहते है जलपान तक सीमा रही चौपाय की | कब तक… Read More »

डार्क सर्कल दूर करने के 4 घरेलू उपाय

By | December 27, 2017

      छुटकारा पाएं आँखों के डार्क सर्कल्स से – Best Home Remedies for Dark Circles In Hindi आपकी आँखे आपके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ बता देती है कहा जाता है की आँखे आपका आइना होता है | अगर आप अपने व्यक्तित्व को प्रभावशाली बनाना चाहते है तो आपको अपनी आँखों को आकर्षक… Read More »

नारी की भूमिका-

By | December 26, 2017

नारी की भूमिका- हम सभी को प्रकृति ने बनाया है | प्रकृति ही हमको चलाती भी है अत: प्रकृति के स्वरूप की जानकारी एव उसके साथ तारतम्य का होना सुखी जीवन की पहली आवश्यकता है | प्रकृति में दो तत्व होते है – पदार्थ और ऊर्जा | पदार्थ को हम ब्रह्रा  कहते है | ऊर्जा… Read More »

हँसना – यह एक ईश्वरीय वरदान है Benefits of Laughing In Hindi

By | December 25, 2017

क्यों ज़रूरी है हँसना? Benefits of Laughing In Hindi सृष्टी के आरम्भ से ही हास्य सुखी जीवन का अनिवार्य अंग माना गया है मन के बोझ को कम करने , थकान को दूर करने का एक सहज साधन है , यह एक ईश्वरीय वरदान है | आज का युग तनाव का युग है बच्चे ,युवक,युवतियां ,बूढ़े… Read More »

मन और बुद्धि के बीच क्या अंतर है?

By | December 24, 2017

बुद्धि और मन- हर व्यक्ति चार स्तर पर जीवन जीता है। ये स्तर हैं—शरीर, बुद्धि, मन और आत्मा। व्यवहार में इनको अलग-अलग नहीं देखा जाता। सब एकरस होकर कार्य करते हैं। मन और आत्मा का भी एक ही स्तर समझ में आ पाता है। जिसको हम मन समझते हैं वह सत्वगुणी, रजोगुणी, तमोगुणी मन आत्मा… Read More »